Tel: 044 – 26211621, 044 – 26212421 | Fax: 044 – 26211621 | ccrschennai(at)gmail(dot)com

माननीय मंत्री जी

राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), आयुष मंत्रालय

पद्मश्री वैद्य राजेश कोटेचा

सचिव, आयुष मंत्रालय

श्री पी एन रंजीत कुमार

संयुक्त सचिव, आयुष मंत्रालय

महानिदेशक का संदेश

Prof. Dr. K. Kanakavalli

महानिदेशक

केंद्रीय सिद्ध अनुसंधान परिषद (सीसीआरएस) सिद्ध चिकित्सा प्रणाली से संबंधित शीर्ष निकाय है। सीसीआरएस क्लिनिकल रिसर्च, ड्रग रिसर्च, औषधीय पादप अनुसंधान, मौलिक शोध, साहित्यिक शोध और दस्तावेज़ीकरण के माध्यम से सिद्ध चिकित्सा प्रणाली के वैज्ञानिक सत्यापन की दिशा में काम कर रहा है।

सीसीआरएस अपनी शोध गतिविधियां और स्वास्थ्य सुरक्षा सेवाएं मुख्य रूप से अपने परिधीय 8 संस्थानों / इकाइयों जो तमिलनाडु में – 3, पुदुच्चेरी, केरल, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और नई दिल्ली में एक एक स्थित है, के माध्यम से पूरा कर रहा है। सीसीआरएस वर्तमान में आयुष मंत्रालय द्वारा वित्त पोषित 33 इंट्रा-म्यूरल अनुसंधान (आईएमआर) परियोजनाओं का कार्य कर रहा है।

सीसीआरएस में 1000 से अधिक ताड़ पात्र की पांडुलिपियां हैं और परिषद् औषध योगों और अन्य सामग्रियों को डीकोड करने और किताबों के रूप में प्रकाशित करने में शामिल हैं। सीसीआरएस दुर्लभ सिद्ध साहित्य, ताड़ पात्र की पांडुलिपियों को भी प्रकाशित कर रहा है और अब तक 50 किताबें प्रकाशित की गई हैं। अनुसंधान परिणामों को पेटेंट और प्रमुख पुनरीक्षा पत्रिकाओं में प्रकाशन के माध्यम से बौद्धिक संपदा अधिकारों में परिवर्तित कर दिया जाता है।

घोषणाएँ

सीसीआरएस ने भिन्न रिख्तियाँ विज्ञापित की जो रोजगार समाचार में पेश हुआ था | आवेदन पत्र के प्रारूप और अन्य विवरण के लिए यहाँ क्लिक करें

मार्च 18, 2019

आयुष-नेट,2018
आयुष पी.एच.डी फ़ेलोशिप योजना(2018)
आयुष-नेट, 2018 के लिए 31.10.2018 को पंजीकृत उम्मीदवारों की अद्यतन सूची (शुल्क भुगतान के बाद)
डाउनलोड के लिए क्लिक करें

नवम्बर 8, 2018
सिद्ध चिकित्सा प्रणाली के विकास के लिए भारत सरकार ने सीसीआरएएस से सी सी आर एस (केंद्रीय सिद्ध अनुसंधान परिषद) को अलग किया जिसका मुख्यालय चेन्नई में है | पांच राज्यों में अर्थात तमिलनाडु (चेन्नई, मेट्टूर एवं पालयमकोट्टै), पुदुच्चेरी (पुदुच्चेरी), नई दिल्ली, कर्नाटक (बेंगलुरु) और केरल (तिरुवनंतपुरम)  छे अनुसंधान संस्थान / एकक कार्यरत हैं | सिद्ध चिकित्सा मानव स्वास्थय के देखभाल के लिए औषध और आहार दोनों पर जोर देने वाला  समग्र स्वास्थ्य  विज्ञान है
 
केंद्रीय सिद्ध अनुसन्धान परिषद्
परिषद् का दृष्टिकोण है विभिन्न व्याधिनिदान विज्ञान की बिमारियों को रोकने,  प्रबंधित करने, ठीक करने के लिए बेहतर प्रीक्लीनिकल और नैदानिक अनुसंधान सुविधाओं के माध्यम से गुणवत्ता, सुरक्षा और प्रभावकारिता के साथ औषधियों को विकसित करने हेतु अनुसंधान की गुणवत्ता को बढाना और ज्ञान का संरक्षण और हस्तांतरण करना

डाउनलोड

सिद्ध में योग
डाउनलोड
सिद्ध चिकित्सा प्रणाली में अनुसन्धान
डाउनलोड
डेंगू बुखार का प्रबंधन
डाउनलोड
चिकुनगुनिया का प्रबंधन
डाउनलोड